रसमलाई  रेसिपी (Rasmalai Recipe In Hindi

Rasmalai Recipe In Hindi

रसमलाई रेसिपी (Rasmalai Recipe In Hindi)रसमलाई दो चरण में बनकर तैयार होती हैं। पहले चरण में रसगुल्ला बनता हैं ,तथा दूसरे चरण में मलाई या रबड़ी बनती हैं। और दोनों को मिलाकर रसमलाई बनती हैं। और जिस का नाम सुनते ही मुँह में पानी आ जाये , ये सबको पसंद भी होती हैं। रसमलाई एक बंगाली मिठाई हैं। जिसमें हल्की चीनी की मिठास , इलाइची का स्वाद ,मलाई  डूबी  हुई और स्पंजी होती हैं,जो मुँह में जाते ही घुल जाती हैं। इसे आप रात के डिनर के बाद डेजर्ट के रूप में या दिन के लंच के बाद या साथ मिठाई के रूप में लें सकते हैं।

सामग्री:- रसमलाई रेसिपी (Rasmalai Recipe In Hindi)बनाने में लगने वाली सामग्री 

रसगुल्ला बनाने के लिए सामग्री 
  • गाय का दूध -1लीटर
  • नींबू का रस -2 टेबल स्पून
  • चीनी -500 ग्राम
  • पानी - 2 गिलास
रबड़ी या मलाई बनाने के लिए सामग्री 
  • दूध - 1 लीटर
  • खोवा - 200 ग्राम 
  • चीनी -  1 कटोरी 
  • पिस्ता - 5-6 दाने  (बारीक़ कटे हुए )
  • बादाम - 5-6 दाने (बारीक़ कटे हुए )
  • काजू - 5-6 दाने  (बारीक़ कटे हुए )
  • केसर - 8-10 धागे (दूध में भीगा हुआ )
  • इलाइची पाउडर-1 टी स्पून
  • कुकिंग टाइम -60 मिनट 
  • कितने लोगों के लिए -6 -8 

 इसे भी पढ़ें  :-  छैना रसगुल्ला रेसिपी - Chhena Rasgulla Recipe 

विधि:- रसमलाई रेसिपी (Rasmalai Recipe In Hindi) बनाने की विधि 

रसमलाई दो चरण में बनकर तैयार होती हैं। पहले चरण में रसगुल्ला बनता हैं ,तथा दूसरे चरण में मलाई या रबड़ी बनती हैं। और दोनों को मिलाकर रसमलाई बनती हैं। तो अब हम पहले रसगुल्ला बनाते हैं ,तो  -

रसगुल्ला बनाने की विधि 
  1. रसगुल्ला रेसिपी(Rasgulla Recipe In Hindi) बनाने के लिए हम सबसे पहले एक कढ़ाई में दूध को डालकर गैस पर मीडियम फ्लेम पर रखकर ढककर दूध को उबाल लेंगे और जब दूध में एक उबाल आ जाये और दूध के ऊपर मलाई जैसा दिखे तो दूध में नींबू का रस डालकर चम्मच से हल्का चलाकर छोड़ देंगे।और गैस के फ्लेम को लो कर धीरे धीरे दूध को फटने देंगे दूध 1 से 2 मिनट में फटने लगेगा और जब दूध पूरी तरह से फट जाये और छैना और पानी अलग हो जाए तो गैस को ऑफ कर देंगे।
  2. अब कॉटन के कपड़े को जालीदार छलनी में बिछा दें तथा फ़टे दूध को छान लेंगे छैना कपड़े में रह जायेगा तथा सारा पानी निकल जायेगा अब छैना को 2 से 3 गिलास सादे पानी से धो देंगे तथा सारा पानी निकाल देंगे जिससे नींबू की खटास निकल जाती हैं तथा रसगुल्ला सॉफ्ट बनता हैं।
  3. इसके बाद कपड़े को हल्के हाथ से दबाकर सारा पानी निचोड़ देंगे तथा कपड़े को बाँध कर 30 मिनट के लिए टांग देंगे जिससे छैना में रुका एक्स्ट्रा पानी भी टपक जाये। और अब 30 मिनट बाद छैना को कपड़े से खोलकर एक बड़ी थाली में ले लेंगे।
  4. छैना थोड़ा सूखा और थोड़ा नरम होना चाहिए क्यों कि ज्यादा सूखा रहा तो रसगुल्ला टाइट बनता हैं तथा ज्यादा नरम रहा तो रसगुल्ला पकाते टाइम टूटता हैं। अब छैना को थाली में लेकर 5 से 7 मिनट तक हाथ से मसले जब तक की छैना में चिकनाई ना छूटने लगे। और छैना मसल कर गुंथे हुए आटे की तरह एक साथ हो जाये। जब आप की हथेली चिकनी हो जाये तब आप छैना को मसलना बंद कर दें।
  5. गुंथे हुए छैना को 10 से 15 बराबर भागों में बाट कर एक मीडियम साइज के नींबू के बराबर गोले बना लेंगे गोले ज्यादा बड़े नहीं बनाने हैं क्योंकि ये जब चीनी के चाशनी में पकते हैं तो और बड़े साइज के हो जाते हैं।
  6. इसके अलावा अब हम एक कुकर या कढ़ाई लेंगे और उसमें 500 ग्राम चीनी और 2 गिलास पानी डालकर गैस पर मीडियम फ्लेम पर उबालने के लिए रखें। और जब चीनी पानी में अच्छे से उबाल आने लगे तो छैना के बने हुए बॉल्स को धीरे धीरे चाशनी में डालकर ढ़क्कन लगा कर पकाये अगर आप कुकर में बना रही हैं तो कुकर के ढ़क्कन से सीटी निकाल दे और ढ़क्कन लगा के 5 मिनट तक हाई फ्लेम पर पकायें।
  7. 5 मिनट बाद कुकर का ढ़क्कन खोले और एक चम्मच से धीरे धीरे चलाये और चाशनी गाढ़ी लगे तो एक कप पानी डालकर 7 से 8 मिनट के लिए ढ़क्कन लगा के फिर से हाई फ्लेम पर ही पकाये। 8 मिनट बाद ढ़क्कन खोले और गैस को ऑफ कर देंगे।
  8. आपको ढ़क्कन खोलने के बाद दिखेगा की रसगुल्ला अपने साइज से दो गुने बड़े हो गये हैं और जब हम गैस ऑफ करते हैं। तो थोड़ी देर बाद रसगुल्ला सिकुड़कर अपने साइज से थोड़े छोटे हो जाते हैं।अब हम रसगुल्लों को चाशनी में से एक बड़े बाउल में निकाल कर 1 से 2 घंटे के लिए ठंडा होने के लिए छोड़ दे। 
  9. तथा 2 घंटे के बाद एक एक रसगुल्ले को चम्मच की सहायता से उठाकर दो चम्मचों के बीच हल्के हाथ से दबाकर रसगुल्लों से एक्स्ट्रा चाशनी निकाल देंगे। रसगुल्लों को हल्के हाथ से दबायें वरना रसगुल्ला टूट जायेगी। 
रबड़ी या मलाई बनाने की विधि 
  1. रबड़ी बनाने के लिए दूध को एक मोटी तली वाली पैन या कढ़ाई में डालकर गैस पर रख कर गैस ऑन कर मीडियम फ्लेम पर दूध को उबलने के लिए रख देंगे और दूध को बराबर चलाते हुए उबालकर गाढ़ा करते हुए आधा कर लेंगे।ऐसा करने में हमें 15 मिनट का समय लगता हैं। 
  2. जब दूध आधा हो जाए तो उसमें चीनी मिलाकर पका लेंगे और साथ ही साथ खोवा और केसर को दूध में डालकर अच्छे से मिला लेंगे। और धीमी आंच पर चलाते हुये 3 से 4 मिनट तक पकाएंगे। और अब इसमें चाशनी से निकली हुए रसगुल्ला और इलाइची पाउडर डालकर अच्छे से मिलाते हुये 4 से 5 मिनट तक पका लें। ताकि रसगुल्लों में रबड़ी का टेस्ट अच्छी तरह आ जाये और अब गैस ऑफ कर देंगे।
  3. तथा मिश्रण को एक बाउल में निकाल कर 1 से 2 घंटे के लिए ठंडा होने के लिए छोड़ दे। तथा 2 घंटे के बाद फ्रिज में ठंडा होने के लिए 2 से 3 घंटे के लिए रख देंगे। तथा 3 घंटे के बाद ठंडा होने पर फ्रिज से निकाल कर सर्विस डिश में रसमलाई को  निकाले और ऊपर से बादाम ,पिस्ता तथा काजू से गार्निश करके रसमलाई रेसिपी (Rasmalai Recipe In Hindi) को सर्व करें।

नोट:- रसमलाई रेसिपी (Rasmalai Recipe In Hindi) बनाने में ध्यान देने वाली बातें

  1. रसगुल्लों को हाई फ्लेम पर ही पकाये क्योंकि लो या मीडियम फ्लेम पर रसगुल्लों को पकाने से रसगुल्ले टाइट हो जाते हैं। रसगुल्ले स्पंजी बनाने के लिए गाय के दूध ही यूज़ करें।
  2. छैना को 2 से 3 गिलास सादे पानी से धो देंगे तथा सारा पानी निकाल देंगे जिससे नींबू की खटास निकल जाती हैं तथा रसगुल्ला सॉफ्ट बनता हैं। छैना थोड़ा सूखा और थोड़ा नरम होना चाहिए क्योंकि ज्यादा सूखा रहा तो रसगुल्ला टाइट बनता हैं तथा ज्यादा नरम रहा तो रसगुल्ला पकाते टाइम टूटता हैं।
  3. रसगुल्ला को गहरे तथा चौड़े मुँह के बर्तन में ही पकाये तथा जो बर्तन ले रहें हैं उसका ढ़क्कन भी हो अच्छे से कवर करता हो तथा जब छैना मसलने के बाद तेल छोड़ दें तो छैना को और ना मसले।
  4. रसगुल्ले में आप चीनी की मात्रा अधिक कर सकती हैं पर कम ना करें क्योंकि ये रसगुल्ला चाशनी में ही पकता हैं। रसगुल्ला को जब हम चाशनी में डालते हैं तो बहुत झाग होता हैं और झाग से रसगुल्ला ढ़क कर नीचे बैठ जाता हैं तथा जब रसगुल्ला पक जाता हैं ,तो चाशनी के ऊपर आ जाता हैं।
  5. रसगुल्ला को निकाल कर पानी में डालकर दबा के चेक करें अगर स्पंजी हुआ तो रसगुल्ला पक गया हैं और नहीं हुआ तो और पकेगा। रसगुल्ला को पकाते टाइम बीच बीच में ढ़क्कन हटा कर चेक कर लेंगे और चाशनी गाढ़ी लगी तो हाफ कप पानी डालकर ढ़क्कन लगा देंगे।
  6. अगर आप इसे ज्यादा मात्रा में या डबल मात्रा में बना रहें हैं तो आप इसे दो बार में पकाये तथा आप इसी चाशनी का दुबारा भी यूज़ कर  सकते हैं बस आप अपने छैना के अनुसार  पानी चीनी  की मात्रा अधिक कर देंगे। 
  7. अगर आप रबड़ी को जल्दी से बनाना चाहते हैं। तो दूध को मीडियम फ्लेम पर बराबर चलाते हुए  15 मिनट में गाढ़ा बनाना लेंगे। पर आप को दूध को बराबर चम्मच या कलछी से चलाते रहना होगा ताकि दूध हमारा जले नहीं। 
  8. और खोवा डालते ही हमारा दूध गाढ़ा हो जाता हैं। और आप खोवा की जगह ,मिल्कमेड का  यूज़ करके भी मलाई या रबड़ी बना सकते हैं। या दूध को जल्दी से गाढ़ा करने के लिए मिल्क पाउडर या कॉर्न फ्लोर का इस्तेमाल कर सकते हैं। 
Rate It:
Average:5/5 (1 Votes)